शनिवार, दिसंबर 27, 2008

चित्र पहेली : बूझो तो जानें

आजकल ब्लॉगजगत में पहेलियों की धूम है । सोचा समय के साथ कदम
से कदम मिलाकर न चले तो हम पिछडे हुए माने जाएंगे । पर कोई आसान
पहेली हमारे हाथ नहीं लगी तो कठिन वाली पूछनी पडी ।
आपको बताना है कि ये महाशय कौन हैं । पर इतने से ही आपकी जीत
पक्की नहीं मानी जाएगी । असली विजेता वही होगा जिसे हमारी एक सदस्यीय निर्णय समिति घोषित करेगी . फैसला इस आधार पर होगा कि आपको यह भी बताना है कि यह कहना क्या चाहते हैं । जिस प्रतियोगी का जबाव सबसे रोचक और सत्य के निकट होगा वही . विजेता होगा .
इसका जबाब सोमवार को सुबह इसी ब्लॉग पर मिलेगा . तो शुरू हो जाइए :)

31 टिप्‍पणियां:

  1. हा याद आया.. ऐसी किसी चीज़ से मैं दूध में शक्कर मिलाता हू... पर ये शायद उसका कोई भाई बंधु है.. किसी मैडम के पास रहा होगा.. क्या पता वो भी इससे दूध में शक्कर मिलाती हो.. पर नाम पता नही चल रहा उसे कहते क्या है...

    नाम तो शायद च... से शुरू होता है...

    नही नही वो वाला च.. नही जो आप समझ रहे है..

    उत्तर देंहटाएं
  2. भाई विवेक जी नमस्कार,
    पहेली में जो ये सरदारजी दिखाए गए हैं, मेरी तो पहचान में आये नहीं. और ये हाथ उठाकर क्या कहना चाहते हैं. अभी बताता हूँ.
    पहले गौर से देखिये. इनकी आँखें बंद हैं इसका मतलब इन्होने तुम्हारी तरफ से आँख फेर रखी हैं. क्योंकि आप शरीफ इंसान हैं.
    इनका हाथ मेरी तरफ कू उठा हुआ है. या ये कहिये कि मेरे सिर की तरफ कू उठा हुआ है. अब तुम्ही बताओ कि मुझ जैसे नालायक, बे-शरीफ, मतलबखोर अन्सान (इंसान नहीं) से सिर पर इनका हाथ हो तो मेरी बल्ले ही बल्ले.

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत खूब!बेशक ,आप समय के साथ चल रहे हैं !बहुत ही रोचक पहेली है.

    उत्तर देंहटाएं
  4. "ankhen aadhe band, hath kuch kehne ke anokhe hi andaj mey or hlki si muskuraht wah wha inka to andaj hi btaa rha hai ke ye koi gazal gunguna rhe hain ha ha ha ha "

    Regards

    उत्तर देंहटाएं
  5. जीहाँ हरियाणा में इन महाशय को झुंगड़ कहा जाता है...:)इनके हाथों की स्टाईल और आंखों के एक्सप्रेशन को गौर से देखिये लगता है यह कह रहे हैं...आतंकवाद? छड यार सानु की फ़र्क पैणा हैं असी तो बुलेट प्रुफ़ हैं होर असी ओथे जांदे ही नई जिथे बम होणा होया,फ़ेर जावांगे तो भी मोमबत्ती जलाण वास्ते...:) की कैया असी पहेली जीत गये लो जी तुसी भी बधाई कबूल करो दार जी ...:)

    उत्तर देंहटाएं
  6. अपूर्व मुद्रा.
    "रोम जल रहा था नीरो बांसुरी बजा रहा था."

    अपूर्व बोध.
    "हम न मरैं मरिहैं संसारा."

    अपूर्व विश्रांति.
    गालिबे खस्ता के बगैर कौन से काम बन्द हैं.."

    ऐसी पहेली मजेदार है-बड़ी नजाकत वाली.

    उत्तर देंहटाएं
  7. मनमोहन सिंह जी के प्रति मेरे मन में बहुत इज्जत है। यह अवश्य है कि वे इस समय बहुत कठिन रोल में हैं - जो शायद उनके लिये डिजाइन नहीं किया गया था।
    बतौर वित्तमंत्री उन्होने भारत को एक नये युग में लॉन्च किया था। उसे मैं भूल नहीं सकता।

    उत्तर देंहटाएं
  8. हां जी हम भी अपना जवाब देते हैं

    ये हैं

    एसएमएस
    यानि सरदार मनमोहन सिंह
    जिनको कि रबर स्‍टैंप के नाम से भी जाना जाता है
    और ये कहना चाहते हैं

    तन्‍ने दूल्‍हा किन्‍ने बनाया भूतनी के
    दरअसल ये कह नहीं रहे हैं बल्कि गा रहे हैं गाना अपने किसी साथी की शादी में

    उत्तर देंहटाएं
  9. ये कह रहे है ’मेरो दर्द न जाने कोई’

    उत्तर देंहटाएं
  10. मनमोहन सिंह जी के बारे मै क्या कहे भारत के प्रधानमंत्री है इसलिए हमारे लिए सम्मानित है अच्छे है लेकिन इनकी चलने कौन देता है आख़िर बिना जनाधार के नेता जो ठहरे ! और हिन्दुस्थान की राजनीती में वैसे भी शरीफ और भले लोगों के लिए चलाने को है ही क्या ?

    उत्तर देंहटाएं
  11. यहाँ हमारे प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह जी कह रहे हैं कि अब तो जागो मेरे साथ सोने वालों अब तो चुनाव का वक्त आ गया है .इन आंतकवादियों ने भी बड़ा सिर दर्द कर दिया है ..जवाब तो अब जनता तो देना पड़ेगा तभी पाँच साल के लिए आ सकते हैं :)

    उत्तर देंहटाएं
  12. man mohan singh ji,no doubt he is good and done good did as a primeminiater.shayad keh rahe ho, ye kahan aa gaye hum, yuhi chalte chalte, socha tha aur unnati mein dhayn de desh ki aur ye pakistan ke aatankwad mein fas gaye.

    उत्तर देंहटाएं
  13. पूछो ना कैसे मैने इतने दिन बिताये

    उत्तर देंहटाएं
  14. विवेक जी, मुझे तो ये मन मोहने वाले जीव की तस्वीर लग रही है.जो कि केवलमात्र हिन्दुस्तान के 10 जनपथ नामक जंगलों मे पाया जाता है.

    उत्तर देंहटाएं
  15. kya bat hai vivek ji aap bhi paheli puchne lag gaye!tab to bhai ham logo ka kya hoga!
    bahut khub jandar paheli!
    lage rahiye munna bhai!

    उत्तर देंहटाएं
  16. हम स्वप्नलोक पर आते है कविता के लिए लेख के लिए आप तो पहेली पूछने लगे . वह भी इतनी कठिन यह कही देखे से लगते है शायद यह हमारे शहर के बैंक मे मनेजर थे बहुत पहले .
    इतना दिमाग पर जोर लगवओंगे तो हम तो आने से रहे थोड़ा सा यो बचा है दिमाग वह भी अलीगढ़ी चक्कर मे चट जाएगा

    उत्तर देंहटाएं
  17. इस चित्र में मृग मोहन कह रहे है --
    दीवानों की न पूछो ....
    दीवानों पे क्या गुजारी है
    गुजरी हई गुजरी हई
    जानी हम तो शान्ति के मसीहा है
    हमें शान्ति से क्या लेना देना
    पर हम शान्ति को देख लेंगे जी .

    उत्तर देंहटाएं
  18. अरे भाई पहचाना नहीं! ये हमारे बास रह चुके हैं - रोज़र्व बैंक के गवरनर!!

    उत्तर देंहटाएं
  19. भाई ये कह रहे हैं ओ यार..मैं क्या करू ? मैडम जी कुछ करने दे तब ना ! :)

    उत्तर देंहटाएं
  20. keh to ye rahe hai...parichay do minute mein deta hoon :


    हिंदुस्तानियों,भारतीयों,पार्टी वालों और मेरे समर्थकों...
    पिछली बार आपने 'फ़ौर द सेक औफ़ इट' सरकार बदली,
    इस बार भी उसी मूड में आ रहे है,
    अरे हम भी कोई भाषण नही दे रहे,
    बस अपनी फ़ौर्मलिटी निभा रहे है

    उत्तर देंहटाएं
  21. Manmohan Singh (Punjabi: ਮਨਮੋਹਨ ਸਿੰਘ, Hindi मनमोहन सिंह; born 26 September 1932) is the 17th and current Prime Minister of the Republic of India. He also serves as the Union Minister for Finance, succeeding P. Chidambaram.[1] He was the Governor of the Reserve Bank of India from 1982 to 1985 and held the post of the Finance Minister of India from 1991 to 1996 under Narsimha Rao-led government. Singh belongs to the Indian National Congress party and took oath as the Prime Minister of India on May 22, 2004, becoming the first person of Sikh faith to hold the post.


    mujhe to google se copy paste karna sabse uchit lagaa....

    उत्तर देंहटाएं
  22. मिर्ज़ा गालिब को उनके 212वीं जयंती पर बधायी दे:
    http://pyasasajal.blogspot.com/2008/12/blog-post_27.html

    उत्तर देंहटाएं
  23. sir
    ye to manmohan singh jee hain. baakee kaa jawaab tab denge jab nirnaayakon kaa pata chalegaaa.

    उत्तर देंहटाएं
  24. नयन बंद हैं न देखूँगा मुख पर भाव है चिंता सा
    हाथ है कुछ घुमा घुमा सा लगता जो है चपटा सा
    मन को यह क्या मोह सकेगा जो दिखता है चमचा सा
    सरदार मेडम मोही सिंह , नाम यही कुछ सच्चा सा

    उत्तर देंहटाएं
  25. ji lagta hai main late ho gayi jawaab dene main
    koi nahi jaankari badi ye kya kam badi baat hai

    उत्तर देंहटाएं
  26. इन्हे तो मैं पहले ही पहचान चुका हूँ -ब्रिहन्नला !

    उत्तर देंहटाएं
  27. सब के सब गलत.. ये भारत में अमरीकन राजदूत हैं।
    लाइये मेरा ईनाम भेजिये।

    उत्तर देंहटाएं
  28. First of all Wish u Very Happy New Year...

    Achchhi Rachanah...
    Regards..

    उत्तर देंहटाएं
  29. "नव वर्ष २००९ - आप के परिवार मित्रों, स्नेहीजनों व शुभ चिंतकों के लिये सुख, समृद्धि, शांति व धन-वैभव दायक हो॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰ इसी कामना के साथ॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰ नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं "

    regards

    उत्तर देंहटाएं

मित्रगण