शनिवार, अगस्त 15, 2009

फोर्थ अम्पायर

प्यारे देशवासियो !

आप सभी को स्वतन्त्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं ।

मैच समाप्त हो गया । अंग्रेज हार गये । भारतीय जीत गये । महात्मा गाँधी जी को 'द मैन ऑफ द मैच' का पुरस्कार मिला । मैच समाप्त हुए आज 62 साल हो गए । लेकिन फोर्थ अम्पायर कार्यक्रम आज तक जारी है । आज तक लोगों को भरोसा नहीं हो पा रहा है कि क्या हम वाकई जीत गए हैं । पर हम यह नहीं पूछेंगे । हमने मान लिया है कि हम जीत गए । हम तो फोर्थ अम्पायर में आज यह प्रश्न लेकर बैठे हैं कि मैच का टर्निंग प्वॉइण्ट क्या रहा ? क्या होता तो क्या हो जाता ? और क्या नहीं होता तो क्या हो जाता ? हारने वाली टीम से बड़ी गलती कहाँ हुई ?

अगर अंग्रेजी सरकार भारत में 'हम दो हमारे दो' नारा लगा देती तो शायद वे मैच इतनी जल्दी न हारते क्योंकि उस स्थिति में 'द मैन ऑफ द मैच' रहे गाँधी जी को दुनिया में आने का मौका ही न मिलता । वे तो अपने माँ-बाप की तीसरी संतान थे । बस यहीं अंग्रेज मात गए । गाँधी जी का पैदा होना इस मैच का टर्निंग प्वॉइण्ट रहा ।

इसी के साथ इस साल का फोर्थ अम्पायर कार्यक्रम यहीं समाप्त होता है । अगले साल फिर मिलेंगे । तब तक के लिए नमस्कार !

15 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत सही टर्निंग प्वाइंट ढूढा आपने
    स्वतन्त्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं

    उत्तर देंहटाएं
  2. हा हा हा कारी पोस्ट!
    स्वतंत्रता दिवस पर हार्दिक शुभकामनाएँ।

    उत्तर देंहटाएं
  3. मैच इत्ती जल्दी खत्म करवा दिया।

    उत्तर देंहटाएं
  4. वाह वाह विवेक भाई ...हमेशा की तरह ..एक अलग सोच ..एक अलग दृष्टिकोण ..आज के समय की सार्थक पोस्ट

    उत्तर देंहटाएं
  5. भाई ई कैसा मैच हुआ? ट्वेंटी ट्वेंटी से भी सुपर फ़ास्ट कोई मैच आगया क्या?:)

    स्वतंत्रता दिवस की घणी रामराम.

    उत्तर देंहटाएं
  6. भारत और अंग्रेजो के बीच ४७ ओवर का मैच खेला गया जिसमे भारत जीता और अंग्रेज हिट विकेट हो गए .. स्वतंत्रता दिवस के पावन पर्व पर हार्दिक शुभकामना

    उत्तर देंहटाएं
  7. शुभकामनाऐं स्वतंत्रता दिवस की..

    उत्तर देंहटाएं
  8. " क्या होता तो क्या हो जाता ? "

    मुझको डुबोया है होनी ने... न होता मैं तो खुदा होता:)

    आज़ादी के बाद का टर्निंग पांईट यह है कि गांधीजी ‘हम दो हमारे दो’ फ़ालो करते तो आज एक और वंशज बंगाल के राजभवन में विराजमान न होता:)

    उत्तर देंहटाएं
  9. वाह बहुत बढ़िया लिखा है आपने! स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनायें!

    उत्तर देंहटाएं

मित्रगण