सोमवार, अक्टूबर 05, 2009

कभी मेरे नाम पर भी….

image

कार्टून देखें और तारीफ करें । कहीं ऐसा न हो कि आप कुछ गलत कहकर चलते बनें और देश एक उभरते हुए कार्टूनिस्ट से हाथ धो बैठे । :)

33 टिप्‍पणियां:

  1. एक कार्टूनिस्ट के महान सपने को ईश्वर सफ़ल करें. :)

    रामराम.

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  2. नेता भले ही विकास के नाम से मांगें
    लेकिन हम तो अपने "विवेक" के हिसाब से ही देते हैं

    कार्टूनिस्ट से हाथ कैसे धोते हैं?

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  3. यह तो बता देते कि किससे बनवाया जी:)

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  4. वाह जी उभरते हुऐ कार्टुनिस्ट... पहली बॉल पर सिक्स.

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  5. नेता अच्छी तरह से जानते है कि लोगो को खूब मालूम है कि नेतावो के पास "विवेक" होता ही नहीं ! इसलिए विकास ही मुहरा बनता है

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  6. बहुत ही अच्छी कार्टूनात्मकता का परिचय दिया है आपने..

    आगे भी और देखना चाहेंगे

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  7. हम तारीफ़ तो बाद में करेंगे पहिले ये बताइये कि इस कला को आप किस गुरु के मत्थे मढ़ेंगे?

    कृपया यह स्पष्ट करें कि कार्टूनिस्ट से हाथ कैसे धोते हैं? क्या यह टिप्पणी विवेक ने ही बेनामी के नाम से की है?

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  8. यह अवतार भी कम कहर नहीं ढायेगा ! जमे रहें । आभार ।

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  9. हो सकता है कि इस उभरते कार्टूनिस्ट के जरिए ही इन नेताओं का 'विवेक' जागृ्त हो जाए :)

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  10. हा हा हा ........बढिया है ......आगे भी इंतजार रहेगा.....शुभकामनाये!

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  11. @ बेनामी,
    आपके कारण अनूप जी ने हम पर शक किया है, हम आपकी बात का जवाब नहीं दूँगा, क्या कल्लोगे ?
    वैसे यह टिप्पणी यदि आप नाम से करते तो आपके व्यक्तित्व में चार चाँद हम लगा ही देते, चाहे हमें चार टकलों की बलि चढ़ानी पड़ती :)

    @ अनूप जी,

    इस कला को भी ऐसे किसी गुरु के हवाले करेगा जो वाकई हमारे कार्टूनिस्ट वाले दिल को प्रभावित करेगा, जैसा उन वाले गुरु ने अपनी काव्यमयी टिप्पणियों से कवि वाले दिल को प्रभावित किया और गुरु के सिंहासन पर कब्जा कर लिया, ऐसे ही इस पद की भर्ती भी हो ही जाएगी इंशाअल्ला!

    बेनामी वाली टिप्पणी हमने नहीं की है, मासूम टिप्पणी थी इसलिए रोकी नहीं,हम करते तो इससे भी धांसू जवाब पहले ही सोचकर नहीं रखते क्या :)

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  12. इस मुद्दे पर हम महान विचारक सिद्धू जी महाराज का एक अमृत वचन ठेलने की अनुमति चाहते हैं. लीजिये अमृत. स्वामी जी उचारते हैं;

    "ओ गुरु, कार्टूनिस्ट, कम्यूनिस्ट और अनिष्ट होना उतना ही दुर्लभ है जितना हिमालय को खिसकाना...जितना राशन की दूकान से मिट्टी का तेल पाना... जितना कठिन है बद्रीनाथ जाना...एक कार्टूनिस्ट से हाथ धोने की बात करना वैसा ही है जैसे पकिस्तान में डेमोक्रेसी लाना...इसलिए चलता जा..अपने कर्म करता जा...किसी के हाथ धोने की बात मत कर...किसी के साथ होने की बात मत कर..."कभी किसी को मुकम्मल जहाँ नहीं मिलता, कभी गुड़ तो कभी चना नहीं मिलता."

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  13. देश के ''उभरते हुए कार्टूनिस्ट'' हमारी बधाई स्वीकार करें।
    :)

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  14. विवेकजी, आज आपके कार्टून को देखकर मुझे अपने पहले कार्टून की याद आ गयी, मैंने भी कुछ इसी तरह से शुरुआत की थी, मैं नहीं जानता यह कार्टून आपने क्या सोचकर बनाया है? पर आपके कार्टून को देखकर मैं यह जरूर बता सकता हूँ की एक कार्टूनिस्ट के गुण आपमें मौजूद हैं, आप चाहें तो इस फिल्ड में उतर सकते हैं, समय के साथ-साथ सफलता मिलती जायेगी और कार्टूनों में निखार भी..शुभकामनायें!

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  15. उभरते हुए कार्टूनिस्ट का स्वागत है ! बहुत बहुत शुभकामनाएँ !

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  16. भाई कारटून में लल्लू या सल्लू है ?
    वाकई जोरदार है ....
    बधाई

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  17. एक छोटा -सा व्यंग चित्र बड़ी लम्बी kahanee सुना देता ...हँसते हँसाते ! व्यंग चित्र बनाना ज़बरदस्त कला है!

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  18. सब आपको नया कह रहे हैं, मुझे तो आप मंजे हुए cartoonist दिख रहे हो :)

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  19. कार्टूनिष्ट जी को मेरा नमस्कार! बहुत सुन्दर कार्टून. मज़ा आ गया.

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  20. नये कार्टूनिस्ट के जन्म पर बधाई।

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  21. अरे विवेक भाई हम तो साबुन से हाथ धोते है, अब भला कार्टूनिस्ट से हाथ धो केसे धोये, बहुत चंगा बनाया हेंगा जी, बोत चंगा लगया.
    धन वाद

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  22. उभरते हुए कार्टूनिस्ट को बहुत शुभकामनायें ...!!

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं

मित्रगण