बुधवार, नवंबर 10, 2010

अब खड़ाऊँ शत्रुघ्न के हवाले

जब राम जी को वनवास के दौरान यह खबर मिली कि अयोध्या में घोटाला हुआ है तो वे न तो उदास हुए और न अपनी प्रसन्नता ही उन्होंने लक्ष्मण जी को जाहिर होने दी । पर जो लोग यह दावा करते थे कि वे खत का मजमून भाँप लेते हैं लिफ़ाफ़ा देखकर, उन्होंने यह दावा किया कि राम जी को खुशी हुई थी क्योंकि घोटाले का ठीकरा भरत जी के सिर फूट रहा था और रामजी की खड़ाऊँ साफ बच निकली थीं ।


भरत को वन में आने के आदेश दिये गए । भरत आए । साथ में सफाई भी लाए । इतनी सफाई लाए कि जंगल के पेड़ पौधे साफ़ हो गए और  जंगल में मंगल हो गया । उन्होंने कहा, " भैया ! होनी को कौन टाल सकता है ? घोटाला तो होना था सो गया । पर आप इसका पॉजीटिव पक्ष भी तो देखिए । आपके राज में घोटाला भी हुआ तो आदर्श !"


किन्तु राम जी न पसीजे । उन्होंने लक्ष्मण को मामले की जाँच करके रिपोर्ट पेश करने का आदेश दिया । लक्ष्मण तो इसी ताक में थे । उन्होंने जाँच करके रिपोर्ट दी कि अब भरत को वन में बुला लिया जाय ताकि यह अपना आदर्श कार्य बड़े स्तर पर कर सकें ।  खड़ाऊँ शत्रुघ्न के हवाले कर दी जाएं ।  


जब यह खबर अयोध्या वासियों को मिली तो वे राम की जय जयकार करने लगे ।
( कलयुग की रामायण से )

25 टिप्‍पणियां:

  1. शत्रुघ्न ने स्त्रीसशक्तीकरण का वास्ता देकर खडाऊं उर्मिला को पास ऒन कर दिया :)

    उत्तर देंहटाएं
  2. भारत में तो कलियुगी रामायण सीरियलवत चल रही है |

    उत्तर देंहटाएं
  3. बस सोचना है ..और निर्णय के बाद आगे बढ़ना है ..कि क्या सही है और क्या गलत ...शुक्रिया

    उत्तर देंहटाएं
  4. धन्य हो हे कलियुग के बाल्मीकि। आपकी कुटिया में जगह हो तो सीता माता को पनाह दें।

    उत्तर देंहटाएं
  5. क्या चौहान को कुर्सी से हटा देने मात्र से भ्रष्टाचार की सजा मिल गयी.. और आज तक इस देश में किस घोटालेबाज नेता को सजा हुई. अफसर जरूर पा गये..

    उत्तर देंहटाएं
  6. मंगल भवन अमंगल हारी,
    ऐसे आदर्शों पर बलिहारी |
    एक चौहान गया तो क्या हुआ ?
    दूजे की आ गई बारी |

    उत्तर देंहटाएं
  7. घोर कलियुग आ गया। भगवान ही बचाये। शुभकामनायें।

    उत्तर देंहटाएं
  8. लीजीए हमको लगा कि शत्रुघ्न सिन्हा का बात हो रहा था तो चले आए ....काहे से कि सोनाक्षी के बाद हम बिहरी बाबू के जबरिया फ़ैन हो गए हैं

    उत्तर देंहटाएं
  9. भैया इन भ्रष्‍ट राजनेताओं के साथ हमारे आदर्श महापुरुषों का नाम क्‍यों जोड़ रहे हो? पसन्‍द नहीं आयी आपकी बात, क्षमा चाहती हूं।

    उत्तर देंहटाएं
  10. जी कल मिसफ़िट पर अर्चनाजी ने पाडकास्ट लगाया था
    मिसफ़िट पर ताज़ातरीन

    उत्तर देंहटाएं
  11. सुन्दर पोस्ट!
    इस पोस्ट की चर्चा चर्चा मंच पर भी है!
    http://charchamanch.blogspot.com/2010/11/335.html

    उत्तर देंहटाएं
  12. :):) बस अब जांच होती रहेगी ...रिपोर्ट तो आने से रही

    उत्तर देंहटाएं
  13. विवेक भाई,

    जन्‍मदिन की अशेष शुभकामनाऍं।

    उत्तर देंहटाएं
  14. आदरणीय विवेक सिंह जी

    जन्‍मदिन की हार्दिक बधाइयां ! शुभकामनाएं !! मंगलकामनाएं !!!


    - राजेन्द्र स्वर्णकार

    उत्तर देंहटाएं
  15. सुन्दर पोस्ट!
    जन्‍मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं

    उत्तर देंहटाएं
  16. विवेक जी आपको आपके जन्म दिवस की बहुत बहुत बधाई हो !

    उत्तर देंहटाएं

मित्रगण